गणतंत्र दिवस पर निबंध

Republic Day Essay in Hindi भारत को 15 अगस्त, 1947 का स्वाधीनता प्राप्त हुई थी| हमें स्वतंत्रता के लिए बहुत संग्राम करना पड़ा था और बहुत से लोगों ने अपने जीवन का बलिदान दिया था| स्वतंत्रता संग्राम के दौरान हजारों लोग जेल गए था  और तब हमारे नेताओं ने गणतंत्र सरकार की स्थापना कर निर्णय लिया था| कुछ महान नेताओं और शिक्षित लोगों ने भारत का नया संविधान बनाया और संविधान 26 जनवरी, 1950 से लागू हुआ था| भारत एक गणतंत्र देश बना, हमारे देश के इतिहास में स्वर्ण अक्षरों में लिखा यह दिवस था|

Republic Day Essay in Hindi 200 Words

डॉक्टर भीमराव अंबेडकर एवं उनके सहयोगियों के अथक प्रयास से निर्मित संविधान के जारी होते ही भारत संप्रभुता संपन्न गणराज्य बन गया| इसी उपलक्ष्य में प्रत्येक वर्ष 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के रुप में मनाया जाता है| गणतंत्र का अर्थ है- ऐसी शासन व्यवस्था, जिसमें सत्ता जनसाधारण में समाहित हो| वैसे तो हमारा देश 15 अगस्त, 1945 को भी अंग्रेजों की दास्तां से आजाद हो गया था, किंतु इस स्वतंत्रता को वास्तविक अर्थ देश को प्रभुत्व संपन्न गणतंत्र राष्ट्र  घोषित किए जाने के उपरांत ही मिला|

गणतंत्र दिवस हमारा राष्ट्रीय पर्व है| यह प्रतिवर्ष 26 जनवरी को मनाया जाता है| इस दिन 1950 में हमारे देश का स्वतंत्र संविधान लागू हुआ था| इस दिन देश में सार्वजनिक अवकाश रहता है, राजधानी दिल्ली में राष्ट्रपति भवन से लाल किले तक भव्य परेड का आयोजन किया जाता है| इस दिन प्रत्येक भारतीय देश की आज़ादी में अपने प्राणों की आहुति देने वाले शहीदों को याद करता है और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करता है| गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति राष्ट्र के नाम संदेश भेजते हैं जिसमें सीधा प्रसारण रेडियो एवं दूरदर्शन पर किया जाता है| इंडिया गेट, विजयपथ, नई दिल्ली में गणतंत्र दिवस का समारोह विशेष तौर पर आयोजित किया जाता है| देश के अतिथि के रुप में किसी न किसी देश के राष्ट्रीय अध्यक्ष को भी आमंत्रित किया जाता है|

Republic Day Essay in Hindi
गणतंत्र दिवस पर निबंध – Republic Day Essay in Hindi

Republic Day Essay in Hindi 300 Words

इस दिन हमारे देश के प्रधानमंत्री सबसे पहले सुबह सेनाओं के सेनापतियों के साथ अमर जवान ज्योति जाते हैं और वहां पर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं| इसके बाद हमारे देश के प्रधानमंत्री इंडिया गेट की और निकलते हैं| राष्ट्रपति द्वारा राष्ट्रीय ध्वज फहराने के बाद भव्य झांकियों का आयोजन किया जाता है| इंडिया गेट से लेकर विजयपथ तक इसे देखने के लिए लाखों लोगों की भीड़ उमड़ पड़ती है| थल सेना, नौ सेना वायु सेना और अर्धसैनिक बलों की परेड इस समारोह की जान होती है| इसके अतिरिक्त पूरे देश की संस्कृति का अवगत कराते हुए प्राय सभी प्रदेशों की भव्य खूबसूरत झांकियां लोगों का मन मोह लेती है|

इस समारोह में देश के लिए अपनी जान की बाजी लगा देने वाले जवानों को विशेष रूप से सम्मानित किया जाता है देश के कोने-कोने से किसी विशेष मौके पर अपनी सूझबूझ एवं वीरता का प्रदर्शन करने वाले बहादुर बच्चों को भी इस दिन राष्ट्रपति द्वारा पुरस्कार दिया जाता है| सबसे पहले स्थल, जल, वायु सेनाओं के जवान अपनी सुंदर वेशभूषाओं में सजे हुए अपने अस्त्र-शस्त्र के साथ राष्ट्रपति को सलामी देते हैं| विभिन्न अत्याधुनिक हथियारों को देख कर जनता का मन देश की सुरक्षा के प्रति आश्वस्त हो जाता है|

परेड में विभिन्न सैनिक बैंडों की धुनें दर्शकों को मंत्र-मुग्ध कर देती है| सभी राज्य की परेड निकलती हैं और वह अपने राज्यों की विशेषताओं को परेड के दौरान दर्शाते हैं| इस दिन बहुत ही सुंदर वातावरण बना रहता है और सब हर्षोउल्लास से खुशियां मनाते हैं| यह दिन भारत के लिए बहुत ही खास दिन होता है| अंत में वायु सेना के जहाज आसमान में कलाबाजियां प्रस्तुत कर दर्शकों का मन मोह लेते हैं| इस दिन राष्ट्रपति भवन में अनेक राजकीय समारोह आयोजित किए जाते हैं| विदेशी राजनयिक वरिष्ठ सम्मानीय जन वह पदक विजेता जहां एकत्र होते हैं| रात्रि को राष्ट्रपति भवन सचिवालय इंडिया गेट व अन्य राजकीय कार्यालय रंग बिरंगी रोशनी से जगमगा उठते हैं| लाल किले के प्रांगण में कवि सम्मेलन का आयोजन भी किया जाता है|

Republic Day Essay in Hindi 400 Words

स्कूलों में देशभक्ति एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है| राष्ट्रीय एकता का यह पर्व सभी धर्मों के लोगों को मिलजुल कर रहने एवं प्रेम भाईचारा का संदेश देता है| हमें देश की शुद्धता अखंडता एवं संप्रभुता बनाए रखनी चाहिए| यह यह नहीं भूलना चाहिए कि हम आज जिस आज़ादी की सांस ले रहे हैं वह वीर जवानों की देन है| सरहद पर जवान सर्दी, गर्मी लू को सहते हुए भी हर पल दुश्मनों पर सिर्फ इसलिए नज़र रखते हैं कि हमारा गणतंत्र सुरक्षित रह सके| हमें भी अपनी स्वतंत्रता बनाए रखने का संकल्प लेते हुए देश के विकास में हरसंभव योगदान देना चाहिए|

प्रजातंत्र और लोकतंत्र गणतंत्र के समानार्थी शब्द है| प्रजातंत्र शासन प्रणाली के अनेक लाभ हैं| प्रजातंत्र शासन में राज्य की अपेक्षा व्यक्ति को अधिक महत्व दिया जाता है| राज्य व्यक्ति के विकास के लिए पूर्ण अवसर प्रदान कराता है| जिस तरह व्यक्ति और समाज को अलग करके दोनों के अस्तित्व की कल्पना नहीं की जा सकती, ठीक उसी प्रकार प्रजातांत्रिक शासन प्रणाली में प्रजा और सरकार को अलग-अलग नहीं देखा जा सकता|

प्रजातंत्र के कई लाभ है, तो इसमें कई प्रकार के हानियाँ भी संभव है| प्रजातंत्र की सफलता के लिए यह आवश्यक है कि जनता शिक्षित हो एवं अपना ही समझती हो| हमें यह समझना होगा कि आज़ादी हमें आसानी से नहीं मिली है| इसके लिए हजारों लोगों ने अपने प्राण त्यागे हैं| आज़ादी मिलने के बाद देश का गणतंत्र बनना हमारे लिए दोहरी खुशी है| इस शुभ दिन का सभी को आदर करना चाहिए गणतंत्र दिवस आज़ादी के शहीदों को याद करने एवं उन्हें श्रद्धांजलि देने में मुख्य भूमिका निभाता है | सभी देशवासी स्वतंत्रता प्राप्ति हेतु प्राण निछावर करने वाले वीरों को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए देश की स्वतंत्रता व अखंडता की रक्षा करने की प्रतिज्ञा कहते हैं|

Note :- Republic Day Essay in Hindi अगर आपको गणतंत्र दिवस पर निबंध  यह अच्छा लगा हो, या आपको इस निबंध के माध्यम से अछि जानकारी मिली को गणतंत्र दिवस के बारे मैं तो आप इसे सभी लोगो के साथ अवश्य शेयर करे ताकि और लोगो तक भी यह जानकारी मिल सके पढ़ने को|

यँहा संबंधित निबंध पढ़ें :-

  1. स्वतंत्रता दिवस पर निबंध

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here